बहुत दर्द है सीने में मुझे लिखने से मत रोको
मेरे शब्द शब्द को बिकने दो इसे बिकने से मत रोको

stock-photo-yes-you-can-just-do-not-stop-now-words-on-road-sign-green-150368441

मन में तूफान कोई आ जाये
दिल में प्रलय कोई छा जाये
मंडराना चाहे आंधी के बादल जो अगर अंबर पर
आ जाने दो आंधी तूफ़ान, इसे आने से मत रोको।
मेरे शब्द शब्द को बिकने दो इसे बिकने से मत रोको।

23659427-zen-stones-water-ripple-green-zen-like-hot

जब कंकर फेका स्थिर जल में
कुछ हलचल ऐसी होती है
चाहे हो ख़ुशी या गम कोई
अंखिया तो सदा रोती है।
बहना चाहे अंखिया जो अगर ,इसे बहने से मत रोको
मेरे शब्द शब्द को बिकने दो इसे बिकने से मत रोको।

830102_orig

खिलती है कली
आती खुशबु
कुछ वक़्त उसे लगता है
माला के लिए
माली भी बलि
उन फूलों की देता है।
मरने के डर से कलियों को खिलने से कभी मत रोको
मेरे शब्द शब्द को बिकने दो इसे बिकने से मत रोको।

we-do-not-stop-playing-because-we-grow-old-we-grow-old-because-we-stop-playing-quote-1

खुल कर जीना
जी कर खिलना
कुछ वक़्त उसे लगता है
खिलने के लिए
इंसा भी बलि
बचपन की देता है।
मरने के डर से बचपन को खिलने से कभी मत रोको
मेरे शब्द शब्द को बिकने दो इसे बिकने से मत रोको।

– प्रितेश (PBM)

Advertisements